भारत की 10 सबसे ज्यादा सैलरी वाली सरकारी नौकरियां, पैसा, रूतबा और सुविधाएं भरपूर

 भारत की 10 सबसे ज्यादा सैलरी वाली सरकारी नौकरियां, पैसा, रूतबा और सुविधाएं भरपूर








 

 

IAS

आईएएस को सातवें वेतन आयोग के तहत सैलरी दी जाती है जोकि शुरुआत में 56100 रुपए महीने होती है। इसके अलावा यात्रा, स्वास्थ्य, आवास सहित कई तरह के भत्तों का भी पैसा दिया जाता है।



इंडियन फॉरेस्ट सर्विस

आईएएस की तरह आईएफएस को भी शुरुआत में 56100 रुपए महीने की सैलदी जाती है। साथ ही यात्रा, स्वास्थ्य, आवास सहित कई तरह के भत्तों का भी पैसा दिया जाता है।


IPS

आईपीएस को शुरुआत में 56100 रुपए महीने की सैलदी जाती है। हालांकि, कुछ ही महीनों बाद सैलरी 1 लाख से ऊपर पहुंच जाती है। यात्रा, स्वास्थ्य, आवास सहित अन्य भन्ते भी शामिल हैं।



RBI ग्रेड B

बैंकिंग के आरबीआई ग्रेड-बी में चयनित होने वाले अभ्यर्थियों को मोटी सैलरी मलती है। आरबीआई ग्रेड बी के तहत चयनितों को 67000 रुपए शुरुआती सैलरी दी जाती है।



सेना

भारतीय नौसेना, भारतीय वायु सेना और भारतीय थल सेना में लेफ्टिनेंट पदों पर चयन के लिए यूपीएससी के तहत सीडीएस, एएफसीएटी आदि परीक्षा आयोजित की जाती है। एक लेफ्टिनेंट की शुरुआती सैलरी 68000 रुपए होती है। वहीं, मेजर बनने पर सैलरी 1 लाख रुपए हो जाती है।



इसरो और डीआरडीओ

इसरो और डीआरडीओ में वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को मोटी सैलरी मिलती है। जानकारी के मुताबिक इन्हें शुरुआत में 60 हजार रुपए तक सैलरी मिलती है।


जज

 देश में जज यानी न्यायाधीश की सैलरी भी मोटी होती है। हाई कोर्ट के एक जज को हर माह 2,25,000 रुपये की सैलरी दी जाती है। सुप्रीम कोर्ट के सभी जजो को 2.50 लाख रुपये प्रतिमाह सैलरी मिलती है।


प्रोफेसर्स

विभिन्न कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में पढ़ाने वाले प्रोफेसर्स और लेक्चरर को शुरुआती सैलरी 50000 के करीब दी जाती है । बाद में यह लाख रुपये से ऊपर हो जाती है।


Post a Comment

Previous Post Next Post